चंडीगढ़ के सिद्धांत दास ने शुरू किया ऑनलाइन किराना स्टोर

Spread the love
  • 11
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    11
    Shares
140 Views

चंडीगढ़ के सिद्धांत दास ने शुरू किया ऑनलाइन किराना स्टोर

SoulBowl चंडीगढ़ में शुरू हुआ एक ऑनलाइन किराना स्टोर है| जहाँ से लोगो को डेली लाइफ की ग्रोसरी उनके घर तक पहुचाई जाती है| जिसमे अलग अलग ब्रांड के 8000 से भी ज्यादा प्रोडक्ट है|

SoulBowl की website पर जाकर लोग सामान को खरीदते है उसके बाद SoulBowl उस सामान की होम डिलीवरी कर देता है| जिससे कस्टमर को समय और ट्रैफिक में फसने दोनों से बच जाता है|

होम डिलीवरी के ये ideas आजकल बहुत popular हो रहे है| आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास इतना समय नही कि वो ट्रैफिक में फसकर किराना का सामान लेने जाये|

इसीलिए लोगो को इसी problem के solution को business idea में कन्वर्ट कर दिया गया|

SowlBowl को खड़ा करने के पीछे हाथ है चंडीगढ़ के सिद्धांत दास का| सिद्धांत ने आर्ट बैकग्राउंड से पढाई की है| उनके परिवार के पास एक पेट्रोल पंप है| घर वाले भी चाहते थे की वे फैमिली बिज़नेस से ही जुड़े|

लेकिन सिद्धांत कुछ अलग करना चाहते थे इसीलिए E-Commerce business को अपने लिए चुना|

कैसे आया आईडिया : Startups in Chandigarh

चंडीगढ़ में ट्रैफिक की समस्या रहती है| यदि कोई आदमी सामान खरीदने जाता है तो ऐसे में खासकर के मार्केट में लोगो का खरीददारी से ज्यादा समय तो ट्राफिक में बर्बाद हो जाता है| और ऐसे में लोगो के 1 से 2 घंटे ऐसे ही ख़राब हो जाते है|

बस इसी समस्या से लोगो को निजात दिलाने के लिए उन्होंने और ट्रैफिक जैम में लोगो का समय बर्बाद न हो इसीलिए उन्होंने E-कंपनी बना डाली|

SoulBowl की शुरुआत में business काफी धीमा था| कस्टमर्स धीरे-धीरे जुड़ रहे थे| उन्होंने अपनी website का कोई भी प्रचार नही किया और न ही कोई advertisement किया| वे ग्राहकों को अपनी services के कारण जोड़ना चाहते थे|

इसीलिए सारे कस्टमर्स सिर्फ उनकी website के कारण उनसे जुड़े| आज उनकी यह website हर महीने अच्छी कमाई कर रही है| एक बेस प्राइस से ऊपर शौपिंग करने के बाद वह कस्टमर से कोई डिलीवरी charges नही लेते|

उन्होंने अपने कस्टमर्स के लिए कई डिस्काउंट ऑफर्स भी दिए है| आर्डर प्लेस करने के बाद सामान की 2-3 घंटे में डिलीवरी हो जाती है| सामान की डिलीवरी भी Electric Rickshaw से की जाती है|

Source : wiyss

  • 11
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com