जानिए मशहूर उद्योगपति गौतम अडानी के ‘जीरो से हीरो’ बनने की कहानी

Spread the love
  • 18
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    18
    Shares
198 Views

जानिए मशहूर उद्योगपति गौतम अडानी के ‘जीरो से हीरो’ बनने की कहानी

आज हम आपको एक ऐसी कहानी बता रहे है जो सभी को प्रेरणा देने वाली है। वो कहानी भारत के सबसे मशहूर बिजनेसमैन गौतम अडानी की, जो आज दुनिया भर में पहचाने जाते हैं। आपको बता दे कि गौतम अडानी का जन्म गुजरात के अहमदाबाद में 24 जून 1962 को हुआ था। अडानी के छह भाई-बहन थे। अडानी का परिवार आर्थिक दृष्टि से संपन्न नहीं था और वो इस दौरान अहमदाबाद के पोल इलाके की शेठ चॉल में रहते थे।

अपनी आर्थिक तंगी के कारण पढ़ाई बीच में अधूरी छोड़ दी और अडानी एक दिन कुछ पैसे लेकर मुंबई आ गए, उस वक्त वो महज 18 साल के थे। मुंबई आकर वह हिंद्रा ब्रदर्स में महज तीन सौ रुपये सैलरी पर काम किया। लेकिन अडानी इतने से खुश नहीं थे और जल्दी ही उन्होंने 20 साल की उम्र में ही हीरे का ब्रोकरेज आउटफिट खोल लिया।

जिनके हौसले बड़े होते है उनकी किस्मत उनके साथ होती है और अडानी कंपनी ने पहले ही साल लाखों का टर्नओवर किया, फिर भाई मनसुखलाल के कहने पर अडानी मुंबई से अहमदाबाद आकर भाई की प्लास्टिक फैक्ट्री में काम करने लगे। फिर पीवीसी इंपोर्ट का सफल बिजनेस शुरू हुआ।

जब प्लास्टिक कारोबार अपने पैरों पर खड़ा हुआ तो 1988 में गौतम ने अडानी एक्सपोर्ट लिमिटेड की नींव शुरू की। यह कंपनी पॉवर व एग्रीकल्चर कमोडिटीज के सेक्टर में काम करने लगी। धीरे-धीरे एक्सपोर्ट का कारोबार बढ़ता गया, उन्होंने पोर्ट सहित कई कारोबार में हाथ डाले तो हर जगह सफलता नसीब हुई।

आपको बता दे कि अडानी ग्रुप का कारोबार दुनिया भर में फैला हुआ है, अडानी की पत्नी का नाम प्रीति है, जो पेशे से डेंटिस्ट हैं और अडानी फाउंडेशन की हेड हैं। अडानी के दो पुत्र हैं-करण और जीत। इतना ही नहीं अडानी के पास दो प्राइवेट जेट हैं। बीचक्रॉफ्ट जेट जो 2005 में खरीद था और हॉकर जेट 2008 में खरीदी गई थी।

Source : sanjeevnitoday
  • 18
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

6 thoughts on “जानिए मशहूर उद्योगपति गौतम अडानी के ‘जीरो से हीरो’ बनने की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com