रंग लाया दिल्ली के तीन दोस्तों का कॉफी स्टार्टअप

Spread the love
  • 22
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    22
    Shares
169 Views

रंग लाया दिल्ली के तीन दोस्तों का कॉफी स्टार्टअप

तीन दोस्त अश्वजीत सिंह, अजीत थांदी और अरमान सूद कॉलेज के दिनों में अच्छी कॉफी पीने के लिए बहुत परेशान रहे. यहीं से उन्हें अपना बिजनेस आइडिया मिला और उन्होंने अच्छी कॉफी बनाने को आसान करने की ठानी. साल 2016 में इस तिकड़ी ने कॉफी बनाने के आइडिया को कारोबार में तब्दील किया और स्लीपी आउल नाम से कोल्ड ब्रू कॉफी स्टार्टअप की शुरुआत कर दी. आपको बता दें कि पिछले दो साल में उनकी कंपनी की ग्रोथ 100 फीसदी से ज्यादा रही है. भारत में जहां चाय सबसे पसंदीदा बेवरेज है, वहीं कॉफी भी धीरे-धीरे पॉप्यूलर च्वाइस बनती जा रही है. ऐसे में नए फ्लेवर और फॉर्मेट लाने का ये सही वक्त है

ऐसे हुई शुरुआत

 स्लीपी आउल जैसे सेटअप को खड़ा करने में उन्होंने शुरुआत 12 लाख रुपये अपने सेविंग और फैमली से जुटाए. डीएसजी पार्टनर से मिले 3.5 करोड़ रुपये की फंडिंग के जरिए उनका बिजनेस तेजी से ग्रोथ करने लगा. स्लीपी आउल फिलहाल 25 हजार से ज्यादा ग्राहकों तक पहुंच चुकी है. साल दर साल आधार पर कंपनी 100 फीसदी ग्रोथ रिकॉर्ड कर रहा स्लीपी आउल का लक्ष्य है कि वो दो सालों में रिटेल स्टोर प्रेसेंस को मौजूदा 100 स्टोर से बढ़ाकर 1000 पर लेकर जाए. कंपनी खुद को एक यूनिक ब्रांड के तौर पर लोगों के घर और ऑफिस में जगह बनाने का फ्यूचर प्लान रखती है. इसलिए कंपनी नए फ्लेवर लाने पर काम कर रही है.

ऐसे बढ़ाई अपनी पहुंच

 अपना प्रोडक्ट ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए स्लीपी आउल बी2बी और बी2सी प्लेटफॉर्म पर काम करती है. कंपनी अपनी   वेबसाइट के साथ अमेजॉन पर भी प्रोजक्ट बेचती है. बी2बी के लिए कैफे और रेस्त्रां में सीधे अपने प्रोडक्ट पहुंचाने के साथ-साथ कंपनी कॉर्पोरेट ऑफिस के साथ करार करती है, जिससे ब्रांड वैल्यू बनाने का काम हर तरफ से हो सके. स्लीपी आउल फिलहाल पॉप अप बेसिस पर केपीएमजी, कॉमिक कॉन में मौजूद है. रिटेल marketing में स्लीपी आउल फूडहॉल, मॉडर्न बाजार जैसे बड़े रिटेल स्टोर्स के साथ लोकल शॉपिंग स्टोर में मौजूद है.

ऐसे तैयार करते हैं टेस्टी कॉफी

 स्लीपी आउल कोल्ड ब्रू कॉफी के लिए अरेबिका बीन्स का इस्तेमाल करता है. इंस्टेंट कोल्ड ब्रू कॉफी बनाने के लिए फार्म फ्रेश बीन्स को ग्राइंड कर 20-24 घंटे तक ब्रू किया जाता है. स्लीपी आउल कॉफी की खासियत ये है कि इसे बनाने के लिए हीट का इस्तेमाल नहीं होता. इससे कॉफी की कड़वाहट और ऐसिडिटी दोनों ही काफी कम हो जाती है और कॉफी का फ्लेवर बेहतर आता है. कंपनी कॉफी को सेल्फ ब्रू और रेडी टू ड्रिंक, दो तरह की पैकेजिंग में ग्राहकों तक पहुंचाती है.

आमदनी 

कंपनी की आमदनी इन कई प्लैटफॉर्म से आता है, हालांकि 60-70 फीसदी ऑनलाइन मॉडेल कॉन्ट्रिब्यूट करता है. ब्रांड लॉयल्टी बढ़ाने के लिए कंपनी सब्सक्रिपशन मॉडल भी शुरू कर चुकी है, जिसमें हर 7 या 15 दिन में कॉफी की डिलीवरी होती रहती है. प्रोडक्ट को अलग बनाने में कंपनी के अनोखे नाम और खास पैकेजिंग का भी अहम रोल रहा है.

  • 22
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com